83 लाख में बना था पुराना संसद भवन ,नए संसद भवन की लागत 971 करोड़ जाने 10 खास बाते ?2021 in hindi

 83 लाख में बना था पुराना संसद भवन ,नए संसद भवन की लागत 971 करोड़ जाने 10 खास बाते ?



देश को नया संसद भवन मिलने जा रहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज इसकी नीव रखी, जो अलगे दो साल में बनकर तैयार होगा ,नया संसद भवन आधुनिक सुविधाओ से लैस होगा 

देश को मिलने जा रहा है नया संसद भवन इस संसद भवन बहुत सुर्खियों में है भारत के सबसे मसूर प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने नीव रखी और बताया जा रहा है की भारत में जो संसद भवन बन रहा है उसका आधा सामान दुबई और बहार से मगाया जा रहा है और इस संसद भवन में कई सारी खुबिया है जो आपको भारत ने नागरिक होते हुए जानना चाहिए :-

भारत और दुनिया की सबसे सफल लोकतंत्र से मसूर और मणि जाने वाली संसद भवन का रुख बदलने वाला है भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने गुरुवार को दिल्ली में नए संसद भवन की नीव रखी आज़ादी के 75 साल पुरे होने तक ये नयी बिल्डिंग तैयार हो जाएगी जो मौजूद बिल्डिंग से अधिक बड़ी आकर्षक और आधुनिक सुविधाओं वाली है नए संसद बावन से जुडी कुछ खास बातो पर आप गौर कीजिए। 

पुराने संसद भवन से इतर नयी बिल्डिंग में आधुनिक तकनीक जरूरतों का ख्याल रखा जा रहा है अगस्त 2019 में मौजूद लोकसभा स्पीकर ओमबिड़ला और उप राष्ट्रीय वेंकैया नायडू  की और से नए संसद भवन का प्रस्ताव रखा गया। 
प्रस्ताव के मुताबिक नया संसद भवन 64500 स्कवायर मीटर में बनाया जाएगा जो चार मंजिल होगा और इसका खर्च को 2022 तक तैयार किया जाएगा इस संसद भवन को 2022 तक तैयार किया जाएगा। 
सभी संसद भवन के लिए संसद भवन परिसर में दफ्तर बनाया जाएगा जिसे 2024 तक तैयार किया जाएगा नयी बिल्डिंग का डिजाइन HCP डिजाइन मैनजमेंट ने किया है जो अहमदाबाद से है। 
इसका निर्माण भारत की  सबसे ज्यादा टेक्स देने वाली कंपनी टाटा प्रोजेक्ट दुवरा किया जाएगा नयी बिल्डिंग में ऑडियो विजुअल सिस्टम डाटा नेटवर्क फेसिलिटीका ख्याल रखा जा रहा है 
नयी बिल्डिंग में कुल 1224 सांसदों के बैठक की सुविधा होगी इनमे 888 लोकसभा चैंबर में बैठा सकेंगे जबकि राज्य सभा चैंबर में 384 सांसदों के बैठक की सुविधा होगी 
फ्यूचर में अगर सांसदों की संख्या बढ़ती है तो उसकी जरुरत पूरी हो सकेगी संसद भवन में देश के हर कोने की फोटो देखने की कोशिश की जाएगी नयी बिल्डिंग में सेंट्रल हॉल नहीं होगी लोकसभा चैंबर में ही दोनों सदनों के संसद बैठ सकेंगे। 
संसद भवन की मौजूदा बिल्डिंग को एक म्यूजियम के तौर पर रखा जाएगा उसमे काम भी चलता रहेगा लोकसभा स्पीकर ओम बिड़लान ने जानकारी दी थी की पुराने संसद भवन ने देश को बदलने देख है को बदलने देखा है ऐसे में फ्यूचर में प्रेणा देगा। 
लोकसभा और राज्य सभा क्लास के अलावा नए भवन में एक भव्ये सविधान कक्ष होगा जिसमे भारत की लोकतांत्रिक विरासत दर्शनों के लिए अन्य वस्तुओ के साथ साथ सविधान की मूल प्रति डिजिटल डिस्प्ले आदि होंगे 
मौजूदा संसद भवन को अंग्रेजी ने बनवाया था 12 फरवरी 1921 को इसकी नीव रखी गयी और 1927 में जाकर ये तैयार हुआ सर एडवर्ड लुडियास सर हॉबर्ड बेकार की अगुआई से संसद भवन की बिल्डिंग तैयार हुई थी जिसे दुनिया के सबसे बेहतरीन इन्फ्राट्रेक्टर के तौर पर देखा जाता है तब इस भवन को बनाने में कुल 83 लाख रुपएका खर्च आया था। 
नया संसद भवन केंद्र सर्कार की योजना सेंटर विस्टा के तहत बनाया जा रहा है जिसमे संसद भवन के अलगाव प्रधान मंत्री ,कार्यालय ,राष्ट्रीय पति भवन और आस पास के ीालके का नवीनी कारण किया जाएगा। 
भारत का संसद दुनिया का अनोखा संसद भवन होगा। 
दुनिया में सबसे बड़ा लोकतान्त्रिक देश होने के नाते यहाँ संसद भी कुछ खास होगा। 
भारत के संसद भवन की नीव श्री नरेंद्र मोदी दुवरा रखी गयी है
और यहाँ 2021 तक सभी तरह की प्रिक्रिया करने लायक हो जाएगा संसद भवन पर बहुत ही ज्यादा ख्याल रखा जा रहा है और भी कई ऐसी खासियत है अब वो तो बनाने के बाद ही पता चल पाएगा पर है यहाँ दुनिया के लिए अलग ही रिकॉर्ड और इतिहास होगा जब नया संसद भवन बनकर तैयार होगा। 

Leave a Comment

x