26 जनवरी के मामले में एक्शन में दिल्ली पुलिस और आई बी नहीं बचगे गुनेगहर? कई नेताओ के पासपोर्ट रद्द किया गया ?

 पुलिस ने गोली नहीं संयम को चूका 

नई दिल्ली 26 जनवरी: को किसानो दंगो ने पुरे देश का सर झुका दिया है पुलिस की भी नहीं मने बात किसानो की रैली निकलने की इजाजत पुलिस ने ही दी थी पर किसानो ने नहीं मणि पुलिस की बात अब करना पद रहा है सिंघु बॉर्डर खली कल पुलिस ने एक्शन में सरे जगह जहा किसानो की बैठक थी सभी जगह को खली कराया पुलिस ने 394 पुलिसकर्मी घायल हुए और अभी भी कुछ ICU में है बताया ऐसा भी कोई टाइम आएगा हमसे किसी ने भी नहीं सोचा था और तो अगर पुलिस चाहती तो अपने बचाव में गोली भी चला सकती थी पर अपने लोगो पर वो कैसे चलयेअगर ऐसा पाकिस्तान या चीन ने किया होता तो पुलिस उनकी धजिया उदा चुकी होती पर अपने ही लोग अपनों पर हमला कर है ये दुश्मनी देश के लिए है आज तक ऐसा कभी भी नहीं हुआ की वह अपनी बात मगवाने ले लिए अपने क ही मरने लगे पुलिस ने भी एक्शन लेते हुए सारे बॉर्डर पर खली कराया गया और जो नेता किसानो को बढ़ावा दे रहे थे उनके ऊपर केस दर्ज किया और पासपोर्ट रद्द किया 

गृह मंत्री अमित शाह ने पुलिस के अपराधियों  के खिलाफ सख्त करवाई करने की दिए आदेश लगातार अमित शाह पुलिस से रिपोर्ट मैग रही है पुलिस के साथ जो भी हुआ उसपे पूरा देश नाराज़ है और गृह मंत्री ने खुली आदेश दिया और सभी आवाजाही जगह पर चेकिंग को कहा बोलै पुलिस के गुनागहरा को दी जाएगी कड़ी सजा खुली आदेश देने से दिल्ली पुलिस ने अपने हाथ खोल लिए है और सभी जगह पर कड़ी जांच लगा दिया है आज अमित शाह जी भी घायल पुलिस वाले से मिलगे और उनका हल पूछगे और कहा की कोई भी शिकाजे से बच नहीं पायेगा और दिल्ली पुलिस के बाद आई बी के अधिकारिया ने हिंसा के पीछे की साजिश रचने वालो के बारे में मिली ख़ुफ़िया जानकारी का व्यूरो दिया और अमित शाह ने सभी कड़ी की जांच करने की निंदा की और बताया की कोई नहीं बचेगा 36 से ज्यादा नेता के पासपोर्ट रद्द किया गया। 

Leave a Comment

x