चमोली में टुटा गलेशियर रहत कार्य के लिए वायु सेना ने उतरा चिनूक हेलीकाप्टर ?रात भर चलेगा रेस्कयू जाने ?

 चमोली में टुटा गलेशियर रहत कार्य के लिए वायु सेना ने उतरा चिनूक हेलीकाप्टर 

चिनूक हेलीकाप्टर 

उत्तराखंड :- रेस्कयू के लिए भारतीय वायुसेना के चिनूक हेलीकाप्टर को स्टैंड बाई में रखा गया है चिनूक हेवी लिफ्ट टविन रोटर हेलीकाप्टर है जो राहत  और बचाव कार्य के दौरान हेवी लोड उड़ाने में सक्षम है

हिमालय की गोद में बसा उत्तराखंड एक बार फिर भीषण त्रासदी से जुझा रहा है उत्तराखंड के चमोली में गलेशियर टूटने से 10 लोगो की मौत हो चुकी है जबकि 20 लोगो  को सुरक्षित रेस्कयू कर लिया गया हाउ अब भी सौ से अधिक लोग लापता है बताया जा रहे नेशनल डिजास्टर रेस्कयू फाॅर्स SDRF  के जवान राहत और बचाव कार्य में जुटे है। 

केंद्र सरकार ने राहत और बचाव कार्य के लिए नेवई गोताखोर का दाल भी चमोली भेजा है वही भारतीय वायुसेना भी के चिनूक हेलीकाप्टर को स्टैंड बाई में रखा गया है चिनूक  हेवी लिफ्ट रोटर हलोकॉप्टर है जो राहत और बचाव कार्य के दौरान हेवी लोड उठाने में सक्षम है। 

गौरवलब है की चमोली जिले तपोवन इलाके में गलेशियर टूटने से भरी तबाही हो गया इस प्रोजेक्ट को व्यापक नुकसान पंहुचा है दूसरा तरफ इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे कई लोग भी लापता हो गए है तपोवन टनल के मुहाने पर भी कचरा जाम हो गया था जिससे टनल में भी कई लोग फास गए थे। 

तपोवन टनल से 16 लोगो को सुरक्षित निकला गया है और अभी भी रेस्कयू ओप्रशन जारी है सेना की टीम को अलर्ट पर रखा है और बताया जा रहा है की आज रात तक रेस्कयू ऑपरेश जारी रहेगा और लोगो को फ़ोन के लोकेशन के जरिया खोजा जा रहा है इसी बिच में सरकार भी कई बड़े एक्शन लेने से नहीं दर रही पी एम मोदी जी ने कहा की उत्तराखंड की हम सब प्राथना करते है और पी एम मोदी रेस्कयू टीम और उत्तराखंड के CM से सपर्क में जुड़े हुए है और साडी जानकारी भी ले रहे है और अमित शाह जी गृह मंत्री जी ने भी कहा की हम सब को निकलने की पूरी कोशिश कर रही है 

data-matched-content-rows-num="3" data-matched-content-columns-num="3" data-matched-content-ui-type="image_stacked" data-ad-format="autorelaxed">

सेना की 600 से भी ज्यादा सेना को भेजा गया और गंगा नदी के किनारे सभी इलाको को हाई अलर्ट पर रखा गया है हरिद्वेर से श्री नगर तक सभी नगरों पर कड़ी निगरानी है और सभी जगह पर हाई अलर्ट पर रखा है 

चिनूक हेलीकाप्टर भी लगया जा सकते है रेस्कयू ऑपरेशन में और आज पूरी रात रेस्कयू चलेगा जब तक सभी लोग मिल नहीं जाते है और लोगो तो उस एरिया में जितने भी मोबाइल फ़ोन है वह पर GPS और ट्रैकिंग की मदद से खोजा जा रहा है 

Leave a Comment