The Bermuda triangle stories in hindi | बरमूडा ट्रायंगल के रहस्य से उठा पर्दा और पता चला की यहाँ था राज

Bermuda triangle stories in hindi बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य क्या है | बरमूडा ट्रायंगल का इतिहास

Bermuda triangle stories in hindi :- बरमूडा ट्रायंगल 300 साल से रहस्य बना हुआ है इसे इसे डेविल ट्रायंगल कहा जाता है बरमूडा ट्रायंगल में समा चुके पानी के जहाज और हवाई जहाजों के बारे में पुस्ट तौर पर तो कोई अकड़ा नहीं है लेकिन ऐसा मन जाता है

Bermuda triangle stories in hindi
Bermuda triangle stories in hindi

की अब तक 2000 जलपोत और 75 वायुयान इस शैतानी टिकने में समा चुके है बरमूडा ट्रायंगल की थेओरी अब दुनिया के सामने आ रहा है और अब दुनिया के सामने आ चूका है किसी ने यहाँ थेओरी को एलियंस का होना कहा है

किउकी आपको बता दे की यहाँ पर कई अजीब तरह की चमक और एलियंस वायुयान देखे जाने का भी दवा किया है और एक आदमी जिसका नाम टेरिस है उसने यहाँ भी कहा है Bermuda triangle stories in hindi

की जब वह पानी के कुछ दुरी पर ही गया है तो उसकी ship में कुछ अलग तरह का हमला किया गया था जो की इस गृह का नहीं था और टेरिस के कुछ दिन के बयान के बाद ट्रिक का अचनाक गायब हो गया जो की अभी तक किसी को भी उसका नमो निसान नहीं मिला

Bermuda triangle stories in hindi
Bermuda triangle vector map, triangle marked in red Bermuda triangle stories in hindi

बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य के ऊपर से पर्दा हटा

ब्रिटिश सइंस्टिस्ट का दवा है की उन्हों ने खोज कर ली है की क्यों वह ऐसा होता है और कहा है की अब बरमूडा ट्रायंगल की रहसयो से उलझी परतो को सुलझाने का दवा है ब्रिटिश सइंस्टिस्ट का दवा है की (शोंग वेव ) के कारण बरमूडा ट्रायंगल में हादसे होते है ये भयवह लहरे 100 तक होती है जिसकी वजह से इसकी चपेट में आता है

और जो भी आता है वह नस्ट हो जाता है पर चलो मन भी लिया की यही सच है आखिर साइंटिस्ट गलत थोड़ी न होगा पर देखा जाये की अगर जहाज पानी की लहरों की चपेट में जाट है तो उसका टुकड़ा तो मिलना चाहिए की नहीं यहाँ तक की टाटेनिक की शिप इतनी बड़ी थी उसका भी टुकड़ा मिल गया पर एरोप्लेन भी नहीं मिला आज तक और चलो यहाँ भी मन लिया की किसी वजह से कही और चली गयी होगी

पर दूसरा सवाल यहाँ है की 2000 शीप और 75 हेलीकाप्टर कहा गए इसका भी जबाब नहीं है आज तक और आपको बता दे की बरमूडा ट्रायंगल के ऊपर से कोई नहीं निकला सकता और तो बल्कि बरमूडा ट्रायंगल के 100 कम की दुरी से भी उसकी चपेट में आ सकता है

बरमूडा ट्रायंगल कंपास

आपको बता दे की सबसे पहले बरमूडा ट्रायंगल पहली बार सेटलाइट की मदद से देखा गया था और बरमूडा ट्रायंगल की जांच करने के लिए अमेरिकन साइंटिस्ट गए तो उनका यहाँ दवा था की वह जब बरमूडा ट्रायंगल के 400 km का अंदर ही उनका कंपास काम करना बाद कर दिया थे और उनकी जहाज जितना आगे जा रहा था उलटना शुरू हो गया था

Bermuda triangle stories in hindi
Bermuda triangle stories in hindi

और यहाँ सब रेडिओ सिग्नल के पता लगया गया था और कुछ समय बाद उनका जहाज का सिंग्नल मिला नहीं जिसकी वजह से वह साइंटिस्ट और उनकी टीम का क्या हुआ कुछ पता नहीं चला इसके खिलाफ अमेरिकन ने आर्मी के साथ कई और साइंटिस्ट के साथ गए

और उनके साथ भी यही हुआ मतलब बरमूडा ट्रायंगल के पास जाते ही कंपास काम कारण बंद कर देता है और जहाज गोल गोल घूमने लगती है अमेरिका के साइंटिस्ट के साथ यहाँ दुर्घटना के बाद अमेरिका के यह ऑपरेशन बंद कर दिया था। Bermuda triangle stories in hindi

सबसे पहले बरमूडा ट्रायंगल का पता किसने किया

बरमूडा ट्रायंगल समंदर के 4,40,000 मिल एरिया को कवर करता है यानि अगर भारत को यहाँ लक्शन को मापी जाये तो राजस्थान , महारष्ट्र और मध्य प्रदेश ,के क्षेत्रफल को मिला लिया जाये तो भी आकर में बरमूडा बड़ा होगा आप सोच सकते है की कितना बड़ा होगा और यहाँ ऐसा क्यों होता है अभी तक नहीं पता चला है बल्कि देखा जाये तो पता भी चला है Bermuda triangle stories in hindi

वह ऐसे की जो भी जाता है वह वह वापस नहीं आता इसी वजह से साइंटिस्ट पता नहीं लगा पाते यहाँ पर किसी भी तरह का नेटवर्क काम नहीं करता है और हर साल यहाँ पर 1000 लोगो से ज्यादा मौत होती है और हर साल यहाँ पर 20 पानी के जहाज और 5 एयरक्राफ्ट लापता होते है और (सबसे पहले बरमूडा ट्रायंगल का पता किसने किया) इसका पर सबसे पहले क्रिस्टोफर कोलम्बस के हवाले से ही मिलता है

सितम्बर 8, 1980 देर लाख टन (150, 000 Ton) लोहे के साथ डर्बीशर (Derbyshire) नाम का एक जहाज अपने लक्ष की और आगे बढ़ रहा था। टाइटैनिक से दो गुना बड़ा और सबसे विख्यात जहाज होने के चलते जहाज के अंदर के लोग सपने में भी नहीं सोच सकते थे की इस बेहद शक्तिशाली जहाज में इन्हे कुछ हो सकता है। पर एक दिन बाद सितम्बर 9, 1980 को यह  डर्बीशर (Derbyshire) जहाज और इसमें मौजूत लोग एक रहस्मय कारन के चलते समुन्दर पर से गायब हो गए। उस समय की यह ब्रिटेन की सबसे बड़ी शिप थी। कोई नहीं समझा सका की यह जहाज गायब कैसे हुआ? इतने एक्सपेरिएंस्ड मेंबर्स होने के बाद भी एक ऐसा जहाज जो कोई सोच भी नहीं सकता था की इसके साथ ऐसा कभी होगा वह आखिर कहाँ चला गया। Bermuda triangle stories in hindi

अनसुलझा रहस्यः यहां जाने वाला जहाज वापस लौटकर नहीं आता Bermuda triangle stories in hindi

मैरी सेलेस्टी नाम का एक व्यापारिक जहाज बरमूडा ट्राएंगल क्षेत्र में लापता हो गया था। 4 दिसम्बर 1872 को अटलांटिक महासागर में यह पाया गया। इस जहाज पर सवार यात्री और जहाज के कर्मचारी का कोई पता नहीं चला।

शुरू में यह माना गया कि जहाज समुद्री डाकुओं द्वारा लूट लिया गया होगा। लेकिन जहाज पर कीमती सामानों के सुरक्षित होने से डाकुओं द्वारा जहाज को लूट लिए जाने की बात साबित नहीं हो सकी।

अमेरिका के लेफ्टिनेंट कमांडर जी डब्ल्यू वर्ली 309 क्रू सदस्यों के साथ यूएसएस साइक्लोप्स नाम के जहाज से सफर कर रहे थे। बरमूडा ट्राएंगल को पार करते समय यह जहाज कहां खो गया कुछ पता नहीं चला। Bermuda triangle stories in hindi

जिस दिन यह घटना हुई थी, उस दिन मौसम भी अनुकूल था। क्रू के सदस्य संदेश भेज रहे थे कि सब कुछ ठीक चल रहा है। लेकिन अचानक मंजर बदल गया और जहाज किस दुनिया में खो गया, कोई जान नहीं पाया।

अमेरिका के इतिहास में इस जहाज का लापता होना और क्रू मेंबर का गायब होना एक बड़ा रहस्य बना हुआ है।

Conclusion about of Bermuda triangle stories in hindi

मुझे उम्मीद है Bermuda triangle stories in hindi की आपको यहाँ जानकारी बहुत मददगार हुआ होगा अगर आपके के कोई भी प्रश्न है तो आप कमेंट करके पूछ सकते है इस पोस्ट में हमने सीखा की दुनिया में ऐसी भी कोई जगह है जो आज के समय में एक रहस्य बना हुआ है Bermuda triangle stories in hindi में जानकारी ले है हमने आपको यहाँ जगह किसी लगी अगर आपको यहाँ जाने का मोके मिले तो आप जाना चाहेंगे या नहीं यहाँ एक मजाक था तो मिलते है अगली पोस्ट में तब तक के लिए जुड़े रहे हमारी वेबसाइट के साथ और एक और पोस्ट जहा कोई दुब नहीं सकता यहाँ जाने।

0 thoughts on “The Bermuda triangle stories in hindi | बरमूडा ट्रायंगल के रहस्य से उठा पर्दा और पता चला की यहाँ था राज”

Leave a Comment

x