क्या खुला रहेगा और क्या बंद रहेगा? | दिल्ली के मुख्यमंत्री ने बताया की दिल्ली में हालत ख़राब ?

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना की बेकाबू रफ्तार के बीच लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया गया है. दिल्ली में सोमवार (आज) रात 10 बजे से लेकर 26 अप्रैल की सुबह तक लॉक डाउन लगेगा किउकी दिल्ली में बेकाबू कोरोना की रफ़्तार ने दिल्ली को भोत बुरी तरह से चपेट में ले रखा है इसी वजह से दिल्ली सरकार ने यहाँ फैसला किया है की दिल्ली में आज रात 10 बजे से सोमवार तक सुबह तक लॉक डाउन लगा रहेगा

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना की बेकाबू रफ्तार के बीच लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया गया है. उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की बैठक में ये फैसला हुआ है. दिल्ली में सोमवार (आज) रात 10 बजे से लेकर 26 अप्रैल की सुबह तक लॉकडाउन लागू रहेगा. इस दौरान बेवजह बाहर निकलने पर मनाही हो रही है अगर कोई बिना कारण के बहार निकल रहा है तो उस पर करवाई भी हो सकती है।

क्या खुला रहेगा और क्या बंद रहेगा?

एक हफ्ते के लॉकडाउन के दौरान दिल्ली में सख्ती लागू रहेगी. बेवजह दिल्ली में बाहर निकलने की मजूरी नहीं होगी अगर कोई ऐसा करता है तो उसपर करवाई भी हो सकती है सिर्फ जरूरी क्षेत्र से जुड़े लोग बाहर आ पाएंगे. दिल्ली में सभी प्राइवेट ऑफिस को वर्क फ्रॉम होम ही करना होगा, सरकारी दफ्तर में आधे ही अफसर आ सकेंगे. 

अस्पताल जाने वाले, मेडिकल स्टोर जाने वाले, वैक्सीन लगवाने जाने वाले लोगों को लॉकडाउन में छूट मिलेगी. रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट, बस स्टेशन जाने वाले लोगों छूट मिलेगी अगर कोई आपके गाओ आ रहा है या जा रहा है तो उसको छूट मिलेगी

मेट्रो, बस सर्विस चालू रहेंगी, लेकिन 50 फीसदी यात्रियों को इजाजत मिलेगी. दिल्ली में बैंक, एटीएम खुले रहेंगे, साथ ही पेट्रोल पंप खुले रहेंगे.RAED ALSO :- top 10 richest countries in the world by GDP per capita 2021 | Why is Qatar the richest country in the world

धार्मिक स्थलों को खुला रखा जाएगा, र सभी को रूल के हिसाब से चलना होगा जैसे बस में 25 लोगो से ज्यादा पर मनाही होगी और मंदिर में सभी लोगो को जाने से मन किया गया है तो और सभी को घर पर रहने की सलाह दी गयी है सभी अपने मुँह पर 3 लेयर वाला मास्क पहने।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने बताया की दिल्ली में हालत ख़राब ?


मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जानकारी दी कि इस लड़ाई में जनता की मदद जरूरी है, हमने हमने हर चीज जनता के सामने रखी है. दिल्ली में आज सबसे अधिक टेस्ट हो रहे हैं, हर रोज टेस्टिंग की संख्या को बढ़ाया जा रहा है. दिल्ली सरकार ने किसी से मौत के आंकड़े भी नहीं छुपाए. दिल्ली में कितने बेड्स, आईसीयू बेड्स और अस्पतालों की क्या हालत है, हमने जनता को बताया है. 
READ ALSO :- how to fight depression without medication | how to fight with depression

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में हर रोज 25 हजार के करीब केस आ रहे हैं, दिल्ली में बेड्स की भारी कमी हो रही है. दिल्ली के अस्पतालों में दवाई नहीं है इसी वजह से दिल्ली में लॉक डाउन लगने का एक ही वजह है वो यहाँ है की बीमारी बढ़ रही है और दवाइया भी नहीं मिल प् रही तो हमे अभी मुसीबत जेलनि होगी नहीं तो दिल्ली का भी महाराष्ट्र से भी खतरनाक मोहोल होगा इस लिए लॉक डाउन जरुरी है

RAED ALSO :- WORLD’ S MOST DANGEROUS ANIMALS 2021 IN ENGLISH

Leave a Comment

x