close

Soyabean me Protein | 100 ग्राम सोयाबीन में प्रोटीन | Benefits Of Soybean प्रोटीन से भरपूर सोयाबीन के ये 6 फायदे

Soyabean me Protein

वैसे तो हमारे देश में किसी भी तरह की सब्जी की कमी है और जो लोग शाकाहारी है वो लोग यह मानते है की उनके लिए ज्यादा केटेगरी नहीं होती है तो आज हम आपको बता दे की सोयाबीन में इतना प्रोटीन पाया जाता है की अगर कोई व्यक्ति नियमित रूप से सोयाबीन का प्रयोग करे तो उसको प्रोटीन का लाभ और अगर प्रोटीन की कमी है

तो एक हफ्ते में प्रोटीन की कमी दूर कर सकता है सोयाबीन आईये जानते है कुछ रोचक जानकारी सोयाबीन के बारे में हम अपने पोस्ट में हेल्थ से कई तरह की केटेगरी में आपको जानकारी लेते रहते है तो आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रहे आपको हेल्थ की सभी तरह की जानकरी मिलती रहेगी

सोयाबीन डाइबिटीज (Diabetes), वेट लॉस (Weight Loss) और कैंसर (Cancer) जैसी बीमारी से बचाव करने में फायदेमंद हो सकती है, और भी कई बीमारियों में सोयाबीन लाभदायक हो सकती है. सोयाबीन में प्रोटीन (Protien) के अलावा विटामिन (Vitamin) और खनिज तत्वों की भी भरमार होती है. इसमें विटामिन बी कॉमप्लेक्स और विटामिन ई की मात्रा ज्यादा होती है. इसके साथ ही सोयाबीन में एमिनो एसिड भी पाया जाता है जो की एक शरीर के लिए बहुत फायदा होता है

How much protein is in 100 grams of soybeans?

हम सब को पता है की प्रोटीन खाने से बहुत फायदे होते है पर रोज कितना और कब तक खाना होता है सोयाबीन तो आपको हम बता दे की अगर आपको सोयाबीन के बेनिफिट चाहिए तो आपको सुबह भिगो कर 100gram आने वाले दो हफ्तों के लिए आपको खाने है आप इसकी सब्जी बना कर भी खा सकते है यह आपके ऊपर है अब बात यह है की 100gram सोयाबीन में कितनी प्रोटीन पाया जाता है तो हम आपको बता दे की प्रोटीन को जल्दी से बढ़ने में सोयाबीन का मुख्य रूप से बहुत बड़ी भूमिका निभाता है आप रात को दूध और दही का सेवन भी कर सकते है।

सोयाबीन को नियमित रूप से खाने से आपको प्रोटीन तो मिलेगा ही पर आपको कमजोरी की समस्या भी दूर होती है क्युकी सोयाबीन में फैट भी होता है जो की आपकी कमजोरी और दुबले पतले शरीर को भी लाभ दे सकता है और अगर 100gram सोयाबीन आप रोज खाते है तो आपको बहुत फायदे मिलेंगे जैसे की :-

Soyabean me Protein
Soyabean me Protein
  • Energy की मात्रा – 416Kcal
  • Protein की मात्रा – 36.5g
  • Fat (total lipid) की मात्रा – 19.9g
  • Carbohydrates की मात्रा – 30.2g
  • Fiber की मात्रा – 9.3g
  • Ash की मात्रा – 4.9g
  • Isoflavones की मात्रा – 200mg
  • Calcium, Ca की मात्रा – 277mg
  • Iron, Fe की मात्रा – 15.7mg
  • Magnesium, Mg की मात्रा – 280mg
  • Phosphorus, Mg की मात्रा – 704mg
  • Potassium, K की मात्रा – 1797mg
  • Sodium, Na की मात्रा – 2.0mg
  • Zinc, Zn की मात्रा – 4.9mg
  • Copper, Cu की मात्रा – 1.7mg
  • Manganese, Mn की मात्रा – 2.52mg
  • Selenium, Se की मात्रा – 17.8mg
  • Vitamin C (ascorbic acid) की मात्रा – 6.0mg
  • Thiamin (vitamin B1) की मात्रा – 0.874mg
  • Riboflavin (vitamin B2) की मात्रा – 0.87mg
  • Niacin (vitamin B3) की मात्रा – 1.62mg
  • Panthotenic acid (vitamin B5) की मात्रा – 0.79mg
  • Vitamin B6 की मात्रा – 0.38mg
  • Folic acid की मात्रा – 375mg
  • Vitamin B12 की मात्रा – 0.0mg
  • Vitamin A की मात्रा – 2.0mg
  • Vitamin E की मात्रा – 1.95
  • Water की मात्रा – 8.5g

सोयाबीन एक प्रोटीन का सबसे बड़ा स्रोत है जिसका उपयोग खाने के लिए किया जाता है। यह पोषक तत्वों का खजाना है, जिसके सेवन से शरीर स्वस्थ रहता है। सोयाबीन को पेड़-पौधों से मिलने वाले प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत माना गया है और जहाँ शाकाहारी की बात करे तो सोयाबीन शाकाहारी लोगो के लिए एक अमृत है प्रोटीन का जहाँ शाकाहारी लोग मानते है की उसके पास प्रोटीन का source ज्यादा नहीं होता है कम्पेरे मासाहरी लोगो के हिसाब से क्युकी मसहरी लोगो के पास प्रोटीन का ज्यादा source होता है पर सोयाबीन में आपको बहुत प्रोटीन मिल जाता है

इसलिए, शाकाहारी लोगों को इसे अपने आहार में जरूर शामिल करना चाहिए। इसमें प्रोटीन और आइसोफ्लेवोंस (एक तरह का बायोएक्टिव कंपाउंड) पाए जाते हैं, जो हड्डियों को कमजोर होने से रोकते हैं। इससे जल्दी फ्रैक्चर होने का खतरा नहीं होता। और आपको बीमारी से दूर भी रखता है

Soyabean me Protein
Soyabean me Protein RULES

सोयाबीन के फायदे – Benefits of Soybean in Hindi

आपको बता दे की सोयाबीन के फायदे अनेक हैं, जिसके बारे में हम आपको विस्तार से बता रहे है इन्हें जानने के बाद आप अपने खाने में सोयाबीन को जरूर शामिल करना चाहेंगे।

मधुमेह के लिए

अगर आपको मधुमेह की समस्या लम्बे समय से चलती आ रही है तो आपको डॉक्टर ने सोयाबीन खाने को जरूर कहा होगा शुगर युक्त खाद्य पदार्थों के सेवन से मधुमेह की समस्या बढ़ सकती है। इसे लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स फूड की श्रेणी में गिना जाता है, जिसमें कार्बोहाड्रेट और वसा की कम मात्रा होती है इसलिए मधुमेह में आपको सोयाबीन बहुत लाभकारी हो सकता है इसमें पाया जाने वाला प्रोटीन ग्लूकोज को नियंत्रित करता है जहाँ आपको मधुमेह कार्बोहाड्रेट और वसा की कमी की कारन होता है वही सोयाबीन आपको रिकवर करके आपकी मधुमेह की बीमारी से निजात दिला सकता है

हड्डियों के लिए

सोयाबीन खाने से आपकी हड्डियां मजबूत होती है और आपकी कमजोर हड्डियां को कमजोर होने से बचती है क्युकी सोयाबीन में फाइटोएस्ट्रोजेन्स (phytoestrogens) पाए जाते हैं जिसके करण से आपकी हड्डियों को और कमजोर होने से बचाव करता है

हृदय के लिए सोयाबीन के फायदे

हृदय के लिए भी सोयाबीन बहुत प्रोटीन युक्त होता है और सोयाबीन खाने से हृदय स्वास्थ्य में सुधार होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो सूजन और हृदय रोग को रोकने में मुख्य भूमिका निभाते हैं और सोयाबीन के सेवन करने से संचार को प्रभावित कण को काम करता है

वजन घटाने के लिए

अगर आपका वजन दिन पर दिन बढ़ाता जा रहा है तो आपको सोयाबीन का सेवन करना चाहिए क्युकी सोयाबीन में प्रोटीन पाया जाता है जिसके करण आपके पेट की पाचन क्रिया को जयदा समय लगता है और उसी समय में आपकी चर्बी काम हो जाती है एक्सपर्ट के अनुसार आपको एक्सरसाइज का भी ख्याल रखना चाहिए

कैंसर के लिए

सोयाबीन के फायदे की बात करे तो आपको बता दे की सोयाबीन के नियमित रूप से सेवन करने से आपको कैंसर जैसे समस्या से निजात मिलता है क्युकी सोयाबीन में आइसोफ्लेवोंस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है साथ ही सोयाबीन फाइटोकेमिकल्स के समूह का भी मुख्य स्रोत माना गया है। ऐसे में ये दोनों तत्व एंटीकैंसर के रूप में अपना असर दिखा सकते हैं। और कैंसर जैसे समस्या से निजात दिलाता है

Soyabean me Protein
Soyabean me Protein

बालों को झड़ने से रोक

सोयाबीन गंजापन और बालों का झड़ना रोकता है। आप बालों में लगाने के लिए सोयाबीन के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे बालों की ग्रोथ होती है और बालों को होने वाले नुकसान से बच जाती हैं।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में

सोयाबीन के फायदे की बात हो रही है, तो आपको बता दें कि इसका सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल के लिए भी फायदेमंद है। सोयाबीन के बीज में पाए जाने वाले आइसोफ्लेवोंस आपके कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने का काम करते हैं मतलब सोयाबीन आपको कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में भी काम करता है।

soyabean me protein। सोयाबीन कैसे उपयोग करे। सोयाबीन को कैसे खाना चाहिए?

  • सोयाबीन के बीजों की सब्जी बनाई जा सकती है।
  • लैक्टोज इनटॉलेरेंस यानी जिन लोगों को गाय का दूध डाइजेस्ट नहीं होता है, वे सोया मिल्क का उपयोग कर सकते हैं। सोया मिल्क में कम कैलोरी, कम फैट और अधिक प्रोटीन होता है।
  • सोयाबीन से बड़ी और सोया दूध से टोफू बनाया जाता है, जिसकी सब्जी बनाई जा सकती है।
  • सोयाबीन को सूप की तरह भी उपयोग किया जाता है।
  • सोयाबीन को अंकुरित करके भी खाया जा सकता है।
  • सोयाबीन से तेल निकालकर सब्जी बनाने के लिए उपयोग किया जा सकता है।
  • सोयाबीन में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा होती है आप दूध के साथ भी सोयाबीन ले सकते है

Leave a Comment

कब्ज दूर करेंगे ये 7 उपाय ये फूड्स खाय आँखों की रोशनी बढ़ाए विटामिन डी किसे होती है? नेचरल स्क्रब से पाए इंस्टेंट ग्लो जाने कोलेजन बढ़ने वाले फूड्स