close

Depression Symptoms in Hindi | डिप्रेशन के मरीज पूरी तरह ठीक हो सकते हैं | डिप्रेशन से कैसे निकले?

आज के समय में बहुत से ज्यादा बच्चे डिप्रेशन का शिकार है इसका क्या कारण है कोई भी सही तरह से पता नहीं लगया गया क्युकी डिप्रेशन एक दिमाग से सोची जाने वाली बीमारी है डिप्रेशन आम तौर पर बहुत आम बात है अगर आपको किसी भी तरह की टेंशन है जिसके कारण आपका काम ख़राब हो सकता है उससे टेंशन कहा जाता है

पर गारा टेंशन ज्यादा लेने से वह उसका दूसरा रूप डिप्रेशन है और आज के समय में यह डिप्रेशन आम बात है क्युकी आज के समय में बच्चे हर किसी जगह या फिर दोस्ती जॉब गेम और रिलेशनशिप और एग्जाम को इतना ज्यादा महत्त्व देने लगे है की अगर उनको वह चीज नहीं मिली जिसे वह चाहते है

तो वह टेंशन में आ जाते है जैसे किसी को जॉब न मिली तो वह टेंशन के कारण डिप्रेशन में आ जाता है जिससे उसके दिमाग सही निर्णेय लेने में कन्फूस हो जाता है

अगर आपको भी ऐसे लगता है की जॉब रिलेशनशिप दोस्ती गेम्स इमोशन इतने मायने रखते है तो आप बुल्कुल गलत है हां आप सोच सही रहे है की आपका फ्यूचर क्या होगा

पर अगर आपको जॉब नहीं मिल रही है तो क्या आप पूरी ज़िन्दगी रोते रहेंगे क्या आपको अलीबाबा कंपनी के मालिक जैक माँ ने 35 इंटरव्यू दिए थे उनसे बेकार किस्म के लोगो का सिलेक्शन हो जाता था पर जैक माँ का सिलेक्शन नहीं होता था

वह इस बात को लेकर बहुत दुखी होते थे पर एक दिन वह अपने आप से सवाल करा और उन्होंने यह सोचा की में इतने इंटरव्यू दे कर आया मुझे सिलेक्शन क्यों नहीं किया जाता था उनके हिसाब से उन्हें लगा की भगवन उनसे कुछ बड़ा करवाना चाहते थे और उन्होंने एक वेबसाइट बनाई

जिसका नाम अलीबाबा डॉट कॉम रखा जो की पूरी दुनिया की सबसे अमीर और सबसे ट्रेंडिंग में रहने वाली कंपनी है और जैक माँ जिन्होंने 35 जगह इंटरव्यू दिया आज वह करोडो के मालिक है और उन सभी कंपनियों को बताया की एक आम व्यक्ति कुछ भी कर सकता है

यह स्टोरी बताते का हमारा मुख्य कारण केवल यह है की आप जॉब फ्रेंड रिलेशनशिप गेम इमोशन के चक्कर में ना पड़े आपके साथ जो होता है कुछ अच्छे के लिए होता है यह सोचे आप कभी भी टेंशन में नहीं होंगे और अगर आपको डिप्रेशन के लक्षण है जिसके करना आप सही तरह से काम भी नहीं कर पा रहे है तो हम आपको कुछ ऐसे टिप देंगे जिसको आप फॉलो करके आसानी से डिप्रेशन की दवा और डिप्रेशन से बहार आ सकते है

Read also :- how to fight depression without medication | how to fight with depression

डिप्रेशन के लक्षण

  • दिन भर और खासकर सुबह के समय उदासी.
  • लगभग हर दिन थकावट और कमजोरी महसूस करना।
  • स्वयं को अयोग्य या दोषी मानना।
  • एकाग्र रहने तथा फैसले लेने में कठिनाई होना।
  • लगभग हर रोज़ बहुत अधिक या बहुत कम सोना।
  • सारी गतिविधियों में नीरसता आना।
  • बार–बार मृत्यु या आत्महत्या के विचार आना

अगर आपको भी इनमे से किसी भी तरह की लक्षण है तो आप चिन्ता ना करे आप एक अच्छे से डॉक्टर के संपर्क में रहे क्युकी अक्सर देखा गया है की डिप्रेशन के कारण व्यक्ति अपने आप को चोट पहुंचने लगता है इसलिए डॉक्टर आपके दिमाग को शांत करने की दवा देंगे जिससे आपका दिमाग बिलकुल रिलेक्स रहेगा

डिप्रेशन के क्या कारण होते है

डॉक्टर के हिसाब से डिप्रेशन के अलग अलग तरह के कारण हो सकते है जैसे की किसी को आर्थिक तनाव के वजह से डिप्रेशन हो सकता है तो किसी को बिज़नेस में लॉस की वजह से किसी का रिलेशनशिप टूटने की वजह से यह सब कारण है जिसके करना डिप्रेशन हो सकता है

1.) तनावपूर्ण घटनाएं

2.) आर्थिक समस्या

3.) पुरानी बीमारी

4.) मानसिक बीमारी का व्यक्तिगत इतिहास

डिप्रेशन से कैसे निकले?

आपको यह सवाल एक अच्छे तरह से याद रखना है की आप डिप्रेशन में कभी भी अकेले बिलकुल भी ना रहे

how to fight depression without medication | how to fight with depression

अगर आपको डिप्रेशन से निकलना है तो आप ज़िन्दगी के बारे में तो बिलकुल भी ना सोचे और आप वह काम करो जिसमे आपको अच्छा लगता है जैसे आपको खेलना पसद है तो आप दिन बहार खेलो यह सोचो की आप मात्रा 18 साल के हो और आपको किसी भी तरह की टेंशन नहीं है

अगर आपको गेम्स खेलना पसंद है तो आप गेम्स खेले क्युकी आप जितना अपने आप को खुश रखोगे आप उतना ही डिप्रेशन से जल्दी बहार निकलोगे

अगर आपको ट्रेवलिंग पसद है तो आप ट्रेवलिंग करो बहार लोगो से मिले मज़े करो अगर आपको डांस अच्छा लगता है तो आप डांस क्लास जॉइंन कर लो कुछ दिनों के लिए आप club में जा सकते है दोस्तों के साथ क्लब जाओ बस आप यह सोचो की आप कुछ नहीं करना बस आपको मज़ा करना है

आप डेली सुबह 30 मिनट तक योग या फिर एक्सरसाइज करो इससे आपके दिमाग एक्टिव रहता है और आप जो भी काम करते है तो डोपामाइन अधिक मात्रा में रिलीज करता है डोपामिन वह दिमाग का वह केमिकल है जो की आपको नशा सम्बन्ध बनाने के दौरान जो अच्छा महसूस होता है

वह डोपामाइन की वजह से होता है अगर आपको वह सब काम करते है जिससे आपको मज़ा आये तो आप बहुत जल्द डिप्रेशन से बहार आ जाते है हां जब डिप्रेशन होता है तो कुछ भी करने न मन नहीं करता है पर आपको करना होगा तभी आप आपके डिप्रेशन से बहार निकल सकोगे

निष्कर्ष

यह जानकारी केवल मानसिक तौर पर बीमार हो रहे व्यक्ति को बहार लेन के लिए बताया गया है यह डॉक्टर के हिसाब से स्टेप बताये गए है जो की मनोविज्ञानिक की सलाह पर बताया गया है और इंडिया में डिप्रेशन के मरीज को ठीक किया जा सके उनके इनफार्मेशन के लिए बताया गया है

यह एक्टिविटी करने से पहले आप अपने डॉक्टर से संपर्क जरूर करे और उनकी सलाह पर करे डिप्रेशन एक बहुत ही आम लेकिन गंभीर समस्या है जिससे बाहर आने के लिए व्यक्ति को चिकित्सकीय सहायता की ज़रूरत भी पड़ सकती है। डिप्रेशन पागलपन नहीं होता है। डिप्रेशन के मरीज पूरी तरह ठीक हो सकते हैं। डिप्रेशन के ईलाज के लिए सही जानकारी बहुत ज़रूरी है

Leave a Comment

क्यों जरूरी होता है फेस सीरम जानिए ? फेशियल के बाद कभी भी न करे ये गलतियां अभी जाने स्किन और बालो के लिए करे लौंग का उपयोग Personal Loan Kaise Milta Hai | पर्सनल लोन कैसे मिलेगा Hair Care Tips: बारिश के सीज़न में ऐसे करें बालों की देखभाल